Home > Saskrit Amchi Tumchi
 

Program Details : ऐसा कहा जाता है, संस्कृतिः संस्कृताश्रिताः भारतीय संस्कृती की नस-नस मे और भारत भूमी के कण-कण मे संस्कृत वास करती है| ज्ञानगंगा सर्वप्रथम और सर्वोत्कृष्ट प्रवाहित हुई वो भी संस्कृत मे ! जिवनके और संस्कृतीके सभी आयामों को स्पर्श करनेवाला मूलभूत साहित्य विश्वमे सर्वप्रथम संस्कृत भाषामे ही निर्माण हुआ|
वस्तुतः हमारी मायबोलीमे संवाद करते समय हम कई संस्कृत या संस्कृतजन्य शब्दोंका उपयोग हमारी रोजम-हाकी जिंदगी मे जाने- अनजानेमे करते है | भारत जैसे खंडप्राय देश को एक सूत्रमे बांधने की क्षमता केवल संस्कृत भाषा मे ही है | संस्कृत एक ऊर्जास्त्रोत है|
किन्तु विटंबना ये है की , अपने देशमे संस्कृत भाषा केवल वैदिक भाषा बनकर सिमट गयी है | इसे विद्वानो एवं विशेषज्ञों की भाषा मानकर इससे परहेज किया जाता है | वह केवल ग्रंथोमे बंदिस्त हो गयी | इसे एक मृतभाषा मानकर दुर्लक्षित किया जा रहा है |
इन सभी बातोंको जानकर हमारे देशमे संस्कृत के प्रचार , संवर्धन और जतनके लिए अनेक संस्कृतप्रेमी संस्थाये और व्यक्ती बडी निष्ठासे अखंड प्रयास कर रहे है| ऐसा ही एक प्रयास गोवा राज्यमे ,संस्कृत भारती गोवा, कौशलम् ट्रस्ट और पणजी दूरदर्शन के सहयोगसे आरंभ हुआ है,
ये एक अनोखा प्रयोग है | इस प्रयोगका नाम है---“संस्कृत ! तुमची-आमची!” (संस्कृत तुम्हारी –हमारी) --- More Details
Epidode 1 : Telecasted on 22/06/2014
Epidode 2: Telecasted on 22/07/2014
Epidode 3:
Epidode 4:
Epidode 5:
Click to view